वर्तमान व भावी कार्यकर्ता/पदाधिकारियों को दिशा निर्देश-

0
109

YS/20/10/2018/1
विषय-संस्कृति उत्थान अभियान को सफल बनाने हेतु ,आपको क्या करना है?

1.आप सभी को ॐ विमर्श यज्ञ अर्थात ॐ विषय पर चर्चा का आयोजन अपने क्षेत्र में करना है। इसके लिए स्थान की व्यवस्था किसी भी आध्यात्मिक स्थल/शिक्षण स्थल आदि में निःशुल्क की जा सकती है। उपर्युक्त दोनों पत्रों को सम्मिलित करके एक सेट बना लें।और आपके कार्यक्षेत्र में निम्नलिखित समाज सेवकों की संख्या का आंकलन कर प्रिंट करवा लें। यह पत्र अपने कार्य क्षेत्र के सभी आध्यात्मिक स्थलों के प्रमुखों व संचालकों, समाजसेवीयों, स्वतंत्रता संग्राम सेनानी व शहीदों के उत्तराधिकारियों, समाजसेवी गणमान्य व्यक्तियों को उनका नाम लिखकर ॐ विमर्श यज्ञ में आमंत्रित करने हेतु व सहयोग करने हेतु स्वयं देकर आने हैं। पत्र प्रारंभ होते ही दिए गए खाली स्थान पर जिन्हें पत्र दिया जा रहा है उनका नाम, पद, स्थान भरें। व पत्रवाहक का नाम व पदनाम के स्थान पर अपना नाम व पदनाम भरें। जो लोग अभी पदाधिकारी नहीं बन पाए हैं वह पदनाम के स्थान पर कार्यकर्ता योगीज सेना भरें। संलग्न संकल्प/समर्थन-पत्र में भी पूर्वानुसार अपना नाम भरें।गणमान्य व्यक्ति का नाम कर्मयोगी का नाम के स्थान पर भरना है। व उनसे इस अभियान हेतु समर्थन का संकल्प-पत्र प्राप्त करना है, साथ ही उनके स्थल की 10 ग्राम मिट्टी प्राप्त करनी है। इन मिट्टी व संकल्प/समर्थन-पत्रों को (अपना भी) आपको योगीज सेना के कार्यालय पर रजिस्टर्ड डाक द्वारा भेजना है।
ॐ विमर्श यज्ञ अर्थात ॐ पर चर्चा के कार्यक्रम की तिथि, स्थान व समय का निर्धारण करने हेतु यदि आपके पास पर्याप्त संसाधन हैं, तो पत्र में दिनाँक, स्थान व समय भी भर लें। यदि आप संसाधन की कमी के कारण ॐ विमर्श यज्ञ के आयोजन हेतु तिथि निर्धारित नहीं कर पा रहे हैं, तो बिना तिथि, स्थान, समय के ही यह पत्र लेकर आप उपरोक्त समाजसेवकों के पास जाएं और इस कार्यक्रम के आयोजन हेतु इन सभी लोगों से सहयोग करने का अनुरोध करें व उनका व्हाट्सएप नंबर लेकर एक व्हाट्सएप ग्रुप बना लें। इस ग्रुप में सभी के सहयोग से ॐ विमर्श यज्ञ के आयोजन की तिथि, स्थान व समय का निर्धारण बाद में किया जा सकता है। यदि आप आयोजन हेतु आर्थिक रूप से सक्षम हैं।तब भी भावनात्मक जुड़ाव हेतु सभी से आर्थिक सहायता प्राप्त करें व योगीज सेना को आर्थिक रूप से मजबूत बनायें।इस प्रकार आप पुण्य, यश कीर्ति, बुद्धि, समृद्धि, स्वास्थ्य, अध्यात्म के लाभार्थी बनें। हमारी शुभकामनाएं आपके साथ हैं।
2. अपने नाम व पदनाम की मुहर बनवा लें। लेटर हेड पर ही अपने नाम व पदनाम की मुहर सहित प्रेस विज्ञप्ति व ज्ञापन आदि की सूचना बनाकर सभी प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया आदि को आयोजन की सूचना देनी है। लेटर हेड का सैंपल आपको उपलब्ध करा दिया जाएगा ,आप प्रिंट करा लें या 500₹ भेजकर अपने पते पर प्राप्त कर सकते हैं।
3. सोशल मीडिया पर योगीज सेना के पत्रों, सरकारी योजनाओं, आध्यात्मिक विज्ञान, स्वास्थ्य आदि राष्ट्रहित की पोस्ट अपने योगीज सेना पदनाम सहित, प्रतिदिन शेयर करना है। तथा होर्डिंग्स पर शुभकामना संदेशो व इलेक्ट्रॉनिक , प्रिंट मीडिया के मध्यम से संगठन का अधिक से अधिक प्रचार करें।
4.ॐ कुंडलिनी साधना की वीडियो देखें व टीम में से यथायोग्य कोई एक या दो व्यक्ति इसे भली प्रकार सीख ले। जिससे प्रत्येक कार्यक्रम का प्रारंभ ॐ कुंडलिनी साधना से किया जा सके व सभी लोग सामूहिक रूप से इस अभ्यास को करने का आनंद व लाभ महसूस कर सकें।यह अभ्यास पूर्ण सहजता, शान्ति व अनुशासन से कराया जाये जिससे उपस्थित जनों को कार्यक्रम के विषय मे रूचि व उत्सुकता बढ़ जाये।इस हेतु ॐ जप के समय, स्थल में आवागमन रोक दिया जाए। कार्यक्रम के शुभारंभ हेतु मुख्य अतिथि व विशिष्ट अतिथियों को भी आमंत्रित करें।व उनकी उपस्थिति में प्रधानमंत्री जी को लिखे गए पत्र को पढ़कर सुनाये।
5.ॐ विमर्श यज्ञ में ॐ के महत्व पर अधिक से अधिक लोगों को बोलने का अवसर देना है। जिससे ॐ कुंडलिनी साधना का लाभ जन जन तक पहुंच सके व सभी स्थलों में ॐ कुंडलिनी साधना के संचालन हेतु सभी उत्साहित व एकमत हो सके। इस प्रकार क्षेत्र के सभी समाज सेवकों (योगीज) से आपका संपर्क स्थापित हो जायेगा व भविष्य के निरंतर चलने वाले सेवाकार्यों, सरकारी योजना प्रचार, योग शिविर आदि हेतु इन्ही में से एक अच्छी कार्यकारिणी(टीम) भी आप बना सकते हैं।
6.एक टीम का गठन करें जिसका कार्य ॐ कुंडलिनी साधना का संचालन प्रारंभ होने के बाद भी संचालन निर्बाध रूप से होता रहे इसका निरीक्षण करना व बाधा दूर करने हेतु आवश्यक सहयोग करना होगा। कार्यक्रम को और भी अधिक अच्छा बनाने हेतु अतिरिक्त प्रयास भी करें।
7. कार्यक्रम में यथासंभव समानता से महिलाओं की भागीदारी भी सुनिश्चित करें। व कार्यक्रम का समापन राष्ट्रगान से करें।
शुभेच्छु
योग गुरु डॉ संजीव कुमार
(राष्ट्रीय अध्यक्ष- योगीज सेना)

CYBER SAINIK PLZ SHARE FOR 🇮🇳🕉️⛳️
SHARE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here